फोन से पटाकर पंजाबी लड़की को लंड का सैर कराया

loading...

मेरा नाम प्रीत है. मैं पंजाब का रहने वाला हूं. मेरी उम्र २७ साल है. दिखने में तो मैं सीधा साधा दिखता हूं, ५ फुट ११ इंच हाइट है, गोरा हूं और स्मार्ट भी हूं. अब मैं स्टोरी बताता हूं. मैं गुरदासपुर रहता हूं, तो मुझे बहुत टाइम पास करने के लिए फ्री टाइम मिल जाता है तो मैं इंटरनेट पर चैट करता हूं. स्कूल पास किए हुए मुझे ६ साल हो चुके हैं. स्कूल टाइम में मैंने १३ लड़कियों की खूब चूत मारी थी. लेकिन वह सिंपल सेक्स होता था. उनको अपने ऊपर वाले रूम में ले जाकर चोद देता था. कुछ नया नहीं होता था. स्कूल से निकलने के बाद मेरी एक साल तक कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी. मैं एकदम अकेला पूरा दिन घर पर रहने लगा.

उस टाइम वोडाफोन चैट पर एक रात मुझे एक लड़की ने अपना नंबर दिया, उसका नाम श्रुति था और वह अमृतसर के कॉलेज में पढ़ती थी. कुछ टाइम तक उसके साथ में भोला भाला बन कर एक अच्छे फ्रेंड की तरह अच्छी अच्छी बातें करता था. उसने बताया कि उसका उसी के कॉलेज में एक बॉयफ्रेंड था लेकिन उस लड़के ने श्रुति को धोखा दिया था. वह लड़का श्रुति का पहला प्यार था. और उसने बताया कि उसने उसके साथ किस किया है और कुछ नहीं. यह सुनकर मेरा कुतुबमीनार आयफेल टावर बन जाता था. श्रुति २० साल की है, उसका ब्रेकअप अभी अभी हुआ था, वह बहुत डिप्रेशन में थी. वह अमृतसर रहती है, एक महीने की फ्रेंडशिप के बाद उसके अंदर मेरे लिए फीलिंग आने लगी, उसने मुझे प्रपोज किया और मैंने अपना लंड हिलाते हुए एक्सेप्ट कर लिया. हमने फर्स्ट टाइम मिलने का प्लान बना लिया, २८ अगस्त यानी मेरे बर्थडे वाले दिन हम दोनों पहली बार मिले. सुबह के ११ बजे प्लान के मुताबिक वह आ गई.

श्रुति अपने २ रूममेट के साथ रहती है, वैसे वह बरनाला की है. मैंने उसको सुबह १० बजे  बाग में बुलाया था, मैं अकेला था. वह ज्यादा सुंदर नहीं थी लेकिन  गोल राउंड बूब्स थे, उसने येलो सलवार कमीज पहना था क्योंकि मुझे सिंपल लड़कियां पसंद है. हम दोनों ने मिलते ही हैंडशेक किया और मैं शॉक रह गया उसने बाग की एंट्री पर ही मेरे गाल पर किस कर के बोला, हैप्पी बर्थडे प्रीत जी. मैं हल्का सा स्माइल कर के रह गया, फिर हम दोनों वहां से मॉल में गए मोल के टॉप फ्लोर पर गए, जहां पीवीआर है. वहां बेंच पर बैठ कर हमने २ घंटे तक एक दूसरे को अच्छे से जाना पहचाना. उसने बातें करते हुए मेरी और बंदीयों का फोन भी आ रहा था,  श्रुति बार बार हंसते हुए मेरी जांघ पर और मेरे गाल पर हाथ रख रही थी, और हल्का हल्का थाई प्रेस कर रही थी, दोस्तों तुम्हें क्या बताऊं यार.. लंड के आस पास गुदगुदी हो रही थी, मैं उसके इशारे समझ चुका था. मोल के साथ ही कोलनी है जहां बहुत फ्लैट है, वहां मेरा एक दोस्त रहता है सागर. मैं श्रुति को बोला कि मैं अकेले तुम्हारे साथ टाइम स्पेंड करना चाहता हूं, उसने बोला कि वह भी वही चाहती है, मैंने पार्किंग से बाइक उठाई और श्रुति को पीछे बिठाकर कॉलोनी की एंट्री पर पहुंच गया.

गार्ड ने सागर से पूछ लिया कि मैं उसका दोस्त हूं, सागर मेरे से भी बड़ा भोसड़ी वाला है. तो वह समझ चुका था. मैंने सागर की बिल्डिंग के सामने बाइक लगाई वहां कोई नहीं था आसपास. फिर श्रुति और मैं सागर के घर गए. आंटी अंकल वहीं पर थे. हम ने चाय पी और २० मिनट तक बैठे फिर हम चल दिए, और मैं सागर को आंख मार दी. और वह समझ गया कि अब मैं कहां जाने वाला हूं. बाहर निकलते ही मैंने लिफ्ट का बटन दबाया. लिफ्ट आ गयी और मैंने ९ फ्लोर का बटन दबा दिया, जैसे ही लिफ्ट बंद हुई मैं श्रुति को बाहों में ले लिया और उसको बुरी तरह किस करने लगा, किस करते ही उसने अपनी जीभ मेरे मुंह में हल्के हल्के स्लिप कर दी, हम दोनों की जीभ एक साथ हो गई, हमने ३ फ्लोर तक टंग टू टंग किस किया, ३ फ्लोर पर लिफ्ट रुकी और एक छोटी स्कूलगर्ल अंदर आई, लिफ्ट बंद हुई और मेने चुपके से श्रुति का लेफ्ट बूब अपने राइट हैंड से दबाया.

loading...

वह एकदम दूर खड़ी हो गई और मुझे गुस्से से घुरने लगी, वह बच्ची ७ फ्लोर पर उतर गई, गिफ्ट बंद होते ही मैं और श्रुति फिर चिपक गए और फिर वैसे ही चीभ से जीभ लगाकर चुम्मा चाटी कर रहे थे. ९ फ्लोर आते ही मैं श्रुति को फटाफट टेरेस की स्टेयर पर ले गया और उसको वहां बैठाया, मैं अब उसके साथ आकर बैठ गया. मैं उसके पास आकर उसके कान में अपनी जीभ डाल कर चार पांच बार घुमाई, वह सेक्स वाली गुदगुदी के मारे पागल हो चुकी थी. फिर मैंने उसको अपने सीने से लगा दिया और हमने १५ मिनट तक एकदम चिपक कर एक दूसरे को हग किया. उसके बाद मैंने बोला श्रुति तुम अपनी आंखें बंद कर लो, मैंने अपने लिप्स उसके पास ले गया और उस के नीचे वाली लिप को अपने होठों में दबा कर चूसने लगा. यार उसके मुंह से हल्की लहसुन की स्मेल आ रही थी, थोड़ी देर तक मैंने उसका नीचे वाला लिप ऐसे ही चूसा, उस की आंखें बंद थी, उसके बाद मैंने अपनी जीभ उसके दोनों लिप पर चलाना शुरु कर दी जैसे लॉलीपॉप को चाटते हैं.

उसको बहुत मजा आ रहा था, मैंने उसका फेस पकड़ा हुआ था और उसके होंठों को अपनी जीभ से लिक कर रहा था. ५ मिनट के बाद मैंने अपने दोनों हाथों से उसके दोनों गाल थोड़े प्रेस किए, जिससे कि उसके होंठ थोड़े खुल गए और तभी मैंने अपनी दोनों होंठ उसके हलके से खुले हुए होठों पर जोर से प्रेस किए और टंग उसकी टंग से लगा दी. हम हल्के हल्के लेकिन मजे ले कर किस कर रहे थे. १ मिनट किस करने के बाद हम दोनों एक दूसरे का थूक घुटने लगे. फिर मैंने उसको छोड़ दिया और हम दोनों स्माइल कर रहे थे. २ मिनट हम चुप रहे, फिर श्रुति ने मुझे बोला, शोना तुम और कुछ करना चाहते हो तो मैं तैयार हूं. आई ट्रस्ट यू शोना, मैंने सोचा शोना मोना गया बहन की चूत में, तेरा तो आज गोना बनाकर दूंगा मैं रंडी साली… मैं उसके यह कहती कि एकदम उससे चिपट गया और उसको हग कीया, उसके चूचे मेरी छाती से एकदम फ्लेट हो चुके थे, मैंने हग करते हुए उसकी चुन्नी उतार दी, फिर उसके सर पर हाथ रख कर बोला, श्रुति तुम मेरी लाइफ में पहली लड़की आई हो, मैं तुमसे शादी करूंगा. वह खुश हो गई, मैंने अपना लेफ्ट हैंड उसके सिर से सरकाकर उसके कंधे पर रख दिया, ऐसा करते ही वह मुझसे और फोर्सफुली चिपट गई, सिग्नल मिलते ही मैंने अपना हाथ धीरे धीरे नीचे लाते हुए उसके दोनों बूब्स के बीच में रखा और कमीज के ऊपर से ही दोनों बुब को पकड़कर बहुत मजे से दबाने लगा, मेरी इस हरकत की वजह से उसने अपने हाथ मेरी जींस के ऊपर लाकर मेरी जांघ को घुटने ने से लंड तक सहलाना शुरू कर दिया. यार दोस्तों बहुत सेक्स का मजा आ रहा था कसम से.

मैंने अपना सिर उठाया और उसका सर अपने राइट हैंड से पीछे से पकड़ा और अपने लिप्स उसके लिप्स में लगा दिया और लेफ्ट हैंड से उसके लेफ्ट और राइट बुब एक एक करके जोर से दबा रहा था, क्या सीन था यार? सुनसान जगह, दोनों चिपक कर बैठे हुए, और किस कर रहे थे. और वह मेरे लंड को जींस के ऊपर से पकड़ कर दबा रही थी. और मैं उसके दोनों बूब्स को दबा रहा था.

यह मामला आप मानोगे नहीं लेकिन ४५ मिनट तक चलता रहा, फिर मैं रूक गया और मैंने उसकी कमीज को ऊपर किया, वह कुछ नहीं बोली. और पीछे जुक कर पूरा फ्लोर पर लेट गई, मैंने कुछ भी करने से पहले अपनी जींस उतारी फिर से उसकी कमीज ऊपर की और उसकी ब्लैक सस्ती सी ब्रा को ऊपर किया, उसके दूध एकदम गोरे गोरे थे और ब्राउन निप्पल. मैंने कुछ देर तक चूचे चूसे और साथ साथ अपने लंड को ऊपर नीचे भी कर रहा था उसके साथ वही पर लेट कर. फिर मैं घुटनों के बल बैठ गया और हल्का सा नीचे झुका, तो श्रुति ने लेटे लेटे ही मेरा सात इंच का लंड अपने मुंह में ले लिया, उसके मुंह में मेरा लंड था और वह लेटी हुई थी. और मैं उसके सर के पास घुटनों के बल बैठा था, और उसने अपना मुंह ऊपर नीचे करना शुरू किया और मैं सातवें आसमान पर पहुंच गया. मैं भी अपना लंड उसके मुंह में अंदर बाहर करना शुरू किया, यार बहुत मजा आ रहा था २० मिनट के बाद मैंने अपना लंड उसके मुंह से निकाला और उसकी टांगों के बीच में आ गया, और सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ने लगा. वह पागल होती जा रही थी. उसने कहा शोना अब तो जल्दी से अंदर उतार दो. मुझे ३ बजे तक घर पहुंचना है नहीं तो रुममेट शक करेंगी. मैंने जल्दी से उसकी सलवार का नाडा खोला और उसकी व्हाइट कच्छी नीचे उतार दी.

पहले तो मैं यह बताना चाहूंगा कि श्रुति की व्हाईट कच्छी के पीछे येलो कलर की थोड़ी टट्टी लगी हुई थी, लेकिन क्योंकि मैं भी अभी तक कई बार अपनी कच्छी में लैट्रिन कर देता हूं, इसलिए मुझे फर्क नहीं पड़ा. मैंने उसकी कच्छी उतारने के बाद आव देखा ना ताव और थोड़ा सा थूक निकालकर उसकी चूत के छेद पर और अपने लंड पर लगाया, वह वर्जिन थी एकदम हल्के बाल वाली चूत थी उसकी. मैं पहले नीचे झुका उसको २ मिनट तक फिर से लिप टू लिप किस किया. किस करते करते ही मैंने उसकी चूत के छेद पर अपने लंड का टोपा रख लिया. ऐसा करने के बाद में उसको किस कर रहा था और मैंने अपना लंड जरा सा उसकी चूत में अंदर घुसा दिया. लंड डालते ही उसने अपने लिप्स मेरे लिप्स से हटाए और अपने मुंह पर हाथ रखकर चीखी. मैं रुक गया और डर भी गया, कि अगर यहां कोई चीख सुनकर आ गया तो? मेरी गांड तोड़ देंगे सब मिलकर. मेरा लंड का टोपा उसकी चूत में ही था, मैं उसके पर्स में से उसका विसपर निकाला और पूरा उसके मुंह में ठूस दिया, अब में उस को किस नहीं कर सकता था, अब मैंने अपना लंड उसकी चूत में और घुसाना शुरू किया हल्के हल्के, वह चिल्ला रही थी लेकिन सारी आवाज उसका विसपर एबसोर्ब कर रहा था, अब मेरा आधा लंड उसकी चूत में अटका हुआ था. मैं उसके सीने से लिपट गया और आधे अंदर गए हुए लोड़े को ऊपर नीचे करने लगा उसकी चूत में. वह अब थोड़ी शांत हो चुकी थी मैं उस को चोदते हुए बोल रहा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *